ऐसे तय होती है Rupee के मुकाबले Dollar की कीमत | How Rupee Value Is Determined Against Dollar







आज़ादी के वक्त 1 Dollar की कीमत 1 Rupee के बराबर थी. लेकिन फिर ऐसा क्या हुआ कि पिछले 70 सालों में Rupee लगातार लुढ़कता चला गया और आज हालात ये हैं कि अब एक Dollar हांसिल करने के लिए हमें लगभग 69 Rupee चुकाने पड़ रहे हैं. तो चलिए आपको लेकर चलते हैं Rupee की उस जर्नी पर जो 1947 से लेकर अब तक डलान पर है. और साथ ही आपको बताएंगे उन कारणों के बारे में जिसकी वजह से किसी भी देश की Currency की Value कम या ज्यादा होती है. आप ये वीडियो देख रहे हैं KissaAajtak पर.
___
About Channel:

आज तक भारत का सर्वश्रेष्ठ हिंदी न्‍यूज चैनल है ।

आज तक न्‍यूज चैनल राजनीति, मनोरंजन, बॉलीवुड, व्यापार और खेल में नवीनतम समाचारों को शामिल करता है।

आज तक न्‍यूज चैनल की लाइव खबरें एवं ब्रेकिंग न्यूज के लिए बने रहें ।

Aaj Tak is India’s best Hindi News Channel. Aaj Tak news channel covers latest news in politics, entertainment, Bollywood, business and sports.

Stay tuned for all the breaking news in Hindi !

Subscribe To Our Channel: http://bit.ly/2xTASBc

Official website:
https://aajtak.intoday.in/

Like us on Facebook
http://www.facebook.com/aajtak

Follow us on Twitter

Subscribe to our other network channels:

The Lallantop
https://www.youtube.com/c/thelallantop

India Today:
http://www.youtube.com/channel/UCYPvAwZP8pZhSMW8qs7cVCw

SoSorry:
https://www.youtube.com/user/sosorrypolitoon

Tez:
http://www.youtube.com/user/teztvnews

Dilli Aajtak:
http://www.youtube.com/user/DilliAajtak

41 Comments

Add Yours →

सर जी ।धरती पर जितने भी ।नेता सब है और देश सब है ।और पढ़े लिखे और दिमाग वाला लोग सब है ।सब मिल कर ।लोगो को ही धोखा देता है ।और अंनपर उल्लू और गधे बनाता है ।अपने अराम के लिए और सेवा के लिए ।और देख रेख के लिए ।सर जी ।और गरीब को और कमजोर लोगो को गधे बनाकर रखा है ।अपने भजन से ।और भाषन से ।और हिसाब किताब से ।हम सब कमजोर को धोखा दे रहे है ।बेईमान लोग सब हम सब को धोखा दे रहे है ।देश सब से मिल कर ।सर जी ।एवं आदि ।समझने के लिए काफी है ।सर जी ।जो हम लिख रहा हू ।आप लोगो को सर जी ।और भारत देश के लिए और जनता के लिए ।सर जी ।जय हिंद ।

बहुत ही सिंपल हल है यदि भारत की जनता भारत मे बने समान को ही इस्तेमाल करना शुरू कर दे तो हमें कम Import करना पड़ेगा, Reserve currency बढ़ेगी तो doller भी कम हो जाएगा, जनता चाहे तो सब हो सकता है ☺️

1947 से रुपया नीचे की तरफ जाता रहा और एक परिवार की संपत्ति ऊपर की तरफ।
इस कॉमेंट का राजनीति से कोई लेना देना नही है।,,☺️☺️☺️

Congress ne desh ka beda garg kar diya .. Han Mai manta hu ki us time desh me investment ko badhwa Dene ke wajah se Kiya gya per iska matlab ye nhi ki sari Congress gov. Isko trend bna le aur niyam bna de rupees ke devaluation ke liye ye galat Kiya.

Desh ki public ye v pta hai ki sari samasyao ka jad Congress hai jo aaj Pura desh bhugat rha hai
Congress Bhakto ko thoda dukh hoga is bat se…

अरे भूपेंद्र सोनी मार्केट में मंदी है तो 30 लाख की कार 2 लाख में क्यों नहीं बिकती है
भूपेंद्र सोनी जब हम किसान लोग मंदी को देखते हैं तो ₹100 किलो बिकने वाली भिंडी को हम ₹5 किलो में बेच देते हैं मंदी के हिसाब से
मंदी है तो फैसला कर कार को एक लाख में बेचने के लिए कहो उनको

मार्केट में मंदी है तो 10 लाख की गाड़ी एक लाख में बेच दो
क्योंकि मंदी आने पर किसान भी तो ₹50 के 1 किलो प्याज ₹5 में बेच देता है
😝😝

Leave a Reply